आधे सर का दर्द कैसे दूर करें और इससे बचने के लिए घरेलू उपाय

दोस्तो ऐसा कई बार देखा गया है कुछ लोगों में आधे सर का दर्द होने की बहुत समस्या होती है. आज इस पोस्ट के माध्यम से हम आपको बताएंगे के आधे सर में दर्द होने पर आपको क्या करना चाहिए और यह किन कारणों से होता है.

आधे सर का दर्द

इस लेख को आप अंत तक पढ़े और अगर जानकारी उपयोगी लगे तो कृपया अपनी Facebook प्रोफाइल पर अपने दोस्तों के बीच इसको जरुर शेयर करें जिससे किसी दुखी भाई-बहन की मदद हो जाए इसके लिए वह आपको धन्यवाद तो देगा ही साथ में हिंदी भाषा का प्रचार भी हो जाएगा.

आधे सर का दर्द क्यों होता है और इसका इलाज कैसे करें

आधे सर का दर्द होने पर आपको बहुत तकलीफ का सामना करना पड़ता ,है यह रोग अधिकतर स्त्रियों में ज्यादा पाया जाता है कुछ लोग आधे सर के दर्द को आधाशीशी का दर्द या माइग्रेन (अंग्रेजी नाम) से भी उसको जाना जाता है नीचे हम आपको बता रहे हैं कि आधे सर में दर्द होने पर आपको क्या करना चाहिए और इससे कैसे बचा जा सकता है.

कई बार माइग्रेन यानी के आधे सर में दर्द व्यक्तियों को दूसरे रोग होने की वजह से भी हो जाता है जैसे कि आपको नजला, जुखाम, या आपका शरीर किसी अन्य रोग से ग्रस्त हो जाना बुखार आ जाना या कब्ज़ होने की वजह से भी आधे सिर दर्द की शिकायत हो जाती है.

माइग्रेन [आधा सीसी] के दर्द का इलाज बिना दवाइयों के भी हो सकता है

यदि आप माइग्रेन और आधे सिर दर्द को दूर करना चाहते है और आप किसी विदेशी दवा का उपयोग करे बिना आप अपने माइग्रेन को ठीक कर सकते है. और आधे सिर दर्द को आप अपने घर में मौजूद खाने की बस्तुओं के द्वारा भी कर सकते है कुछ घरेलू उपाय है जिनकी मदद से आप अपनी इस समस्या का जड़ से मिटा सकते है.

  • कई बार आपकी आंखों का नंबर बढ़ जाने की वजह से भी आधे सर में दर्द होने की शिकायत हो जाती है इसलिए किसी अच्छे Eye हॉस्पिटल में जाकर अपनी आंखों को चेक जरुर करवाएं.
  • आपके शरीर में यकृत यानी कि जिगर में अगर किसी तरह की खराबी या आपको अधिक शारीरिक रूप से कमजोरी हो जाती है तब भी आपको माइग्रेन होने का खतरा होता है. होंटों का कालापन कैसे दूर करें
  • कई बार शारीरिक क्षमता से अधिक काम करने पर या बहुत ज़्यादा विश्राम करने पर भी आधे सर दर्द की शिकायत हो जाती है.
  • बहुत ज़्यादा मानसिक तनाव या मानसिक रूप से थकान हो जाने पर भी आपको आधा सीसी का दर्द होने लगता है, ये विशेष रूप से उन लोगों में होता है जो बहुत अधिक कंप्यूटर का स्मार्टफोन का उपयोग करते हैं.

आधे सर दर्द का इलाज – माइग्रेन का घरेलू उपचार

इस रोग में आप सबसे पहले प्राकृतिक चिकित्सा का सहारा लें जैसे आपको अपने भोजन में अधिकतर रसाहार चीजें जैसे कि चुकंदर गाजर का रस नारियल का पानी पत्ता गोभी अथवा ककड़ी इन जैसी चीजों का सेवन अपने भोजन में करना चालू कर दें. यहाँ पढ़ें:- पथरी के लक्षण और पथरी का इलाज

माइग्रेन हो जाने पर आपको अपने भोजन में मेथी, बथुआ की भाजी, अंजीर, आंवला, अनार, नींबू, अमरूद, सेब, संतरे, और धनिया जैसी चीजों को लेना शुरू कर देना चाहिए और इसके अलावा माइग्रेन के रोगी को देर रात तक ना तो भोजन करना चाहिए और ना ही ज्यादा रात तक जागे रहें और कहना शाम होते ही खा लेना चाहिए.

Don't Eat At Late Nightमाइग्रेन या आधा सीसी के दर्द को प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति द्वारा नाक से भाप देकर ठीक किया जा सकता है. अगर आप का रोग बहुत ज्यादा बढ़ गया है एक छोटे से बर्तन में गरम पानी ले और उसके बाद प्रभावित व्यक्ति को बर्तन पर झुक कर नाक से भाप लेनी चाहिए.

रोजाना कम से कम 10 या 15 मिनट इस प्रक्रिया को आप करें इससे माइग्रेन रोग कुछ ही दिनों में पूरी तरह से ठीक हो जाता है. मोज़े पहनकर सोने के फायदे यहाँ पढ़ें

घरेलू उपाय जिससे माइग्रेन की समस्या दूर होगी बहुत जल्द

कुछ आसान से घरेलू उपाय अपने माइग्रेन की समस्या को आसानी से दूर कर सकते है यदि आप नियमित इन उपायों को करते है तो कुछ ही दिनों में आपकी ये माइग्रेन की समस्या दूर हो जाएगी और आपको इन उपायों को करने से पूरे शरीर में स्फूर्ति रहेगी.

सबसे पहले आपको बहुत ही मामूली सा तरीका बताते है जोकि बहुत ही सरल है आपको सुबह सूरज निकले से पहले एक कप में अंगूर का रस डालकर उसे 10- 12 minute खुला रखने के बाद उस रस को रोज पीयेंगे तो आपका आधे सिर दर्द वाली समस्या ठीक हो जाएगी. यदि आपको सुबह उठने में समस्या है तो आप हींग के कुछ दानो को पानी में डालकर उस पानी की महक को सूघेंगे तो आपको बहुत जल्दी आराम मिलेगा.

रोजाना यदि प्याज का सेवन करते है तो आपको माइग्रेन या आधे सिर दर्द की समस्या नहीं होगी. और यदि प्याज को खाने की जगह उसे पीस कर अपने पैर के तलवो पर लगाते है तो काफी आराम मिलेगा.

सूरज निकलने के बाद यदि आपको माइग्रेन की समस्या होती है या फिर सुबह सुबह आपको आधे सिर में दर्द महसूस होता है तो आपको एक कूप दही के साथ थोड़े उबले हुए चावलों को मिक्स करना है फिर इस दही चावल के मिश्रण को खाना है ऐसा यदि आप ऐसा 5-6 दिन भी करते है तो आपका माइग्रेन का दर्द पूरी तरह से चला जायेगा और आगे से ऐसी कोई सिर दर्द से सम्बंधित समस्या भी नहीं होगी.

माइग्रेन के रोगी क्या खाएं और क्या न खाएं यहाँ जानिए

सबसे ज्यादा स्वादिष्ट और असरदार उपाय ये कि आपको सुबह सुबह गर्म गर्म दूध के साथ गर्म गर्म जलेबियाँ खानी है आप खुद महसूस करेंगे कि आपके सिरदर्द की समस्या कैसे दूर हो गई. और भी आसान उपाय है जैसे एक गिलास दूध में चीनी डालकर उसे गर्म कीजिये और फिर उसी दूध में २ चम्मच घी को मिक्स कर लीजिये सुबह सुबह इस मिल्कशेक को लीजिये आपका माइग्रेन का दर्द मिट जायेगा.

माइग्रेन के रोगी को बीन्स का सेवन करने से बचना चाहिए इसके अलावा सोया और मटर की फली भी माइग्रेन के रोग को बढ़ाने में सहायक होती है. इसके अलावा आपको तेज मिर्च का सेवन और अचार भी खाना बंद कर देना चाहिए.

माइग्रेन के दर्द से बचाव के लिए आप पनीर से बनी हुई कोई भी चीज न खाएं इसके अलावा खट्टे फलों का सेवन करना भी माइग्रेन के दर्द को बढ़ा सकता है. और एक बात का विशेष ध्यान रखें हैं आप उस दौरान जंक फूड का सेवन बिल्कुल ना करें जैसे कि पिज़्ज़ा, बर्गर, पानीपुरी, मसाला डोसा, समोसा इत्यादी और इससे मिलती जुलती अन्य बाजार की चाट पकोड़ी खाने से परहेज़ करें. गोरा होने की दवा – गाजर का फेस पैक

आधा सीसी का दर्द हो जाने पर आप अंगूर के रस का सेवन करें  इससे बहुत फायदा पहुंचता है और अगर दर्द बहुत ज्यादा है तब आधा चम्मच शहद में थोड़ा सा सोना नमक मिलाकर चटायें इसके अलावा हींग  माइग्रेन के दर्द से राहत दिलाने में बहुत असरदार है अच्छी क्वालिटी की हींग को बिल्कुल थोड़ा सा पानी मिलाकर इसको लेप के रूप में माथे पर लगाएं, और हींग को सूंघें  इससे दर्द में तुरंत आराम मिलता है.

आधा सीसी के दर्द में परहेज

रातभर के लिए आप आधा चम्मच साबुत धनिया , आधा चम्मच जीरा व आधा चम्मच आंवला पाउडर एक गिलास साफ़ पानी में मिलाकर रख लें और फिर सुबह – सुबह इसे कपड़े से छानकर पीने से आपका पुराने से पुराना सिरदर्द भी सही हो जाएगी. बादाम , खसखस , सौंफ, कालीमिर्च तथा मिश्री समान मात्रा में लेकर पीस लें. ये मिश्रण एक चम्मच खाली पेट पानी के साथ लेने से आपके सिर का दर्द कुछ ही दिनों में ठीक करेगा और आपकी दिमागी शक्ति को बढ़ाएगा. जिससे आपको बेहतर महसूस होगा.

आधा सीसी का दर्द होने पर आप दूध में जलेबियां या फिर रबड़ी मिलाकर खाएं इससे भी आधे सर दर्द की शिकायत में बहुत आराम मिलता है. और अगर आपको माइग्रेन के साथ-साथ उल्टी भी हो रही है तो इस दौरान आप प्रभावित व्यक्ति को शहद चटा दें और देसी घी में गुड मिलाकर खाने से भी यह रोग दूर हो जाता है.

यदि तेज धूप में घूमते है तो भी एक कारण सिर दर्द या माइग्रेन का. आप एक गिलास भर पानी में एक चम्मच चीनी व थोड़ा सा नमक डालकर देशी O.R.S. घोल बना कर पीजिये ये आपके शरीर से ग्लुकोस की कमी को भी दूर करेगा और आपका माइग्रेन का दर्द भी हो जायेगा. और आप नींबूपानी या ठन्डे पीने का सेवन करते है तो आपके सिर में होने वाला दर्द फिर नहीं होगा.

दूध न होने पर आप देसी घी को गरम करके इसमें थोड़ा सा कपूर मिलाकर अपने सिर पर आराम आराम से मालिश कीजिये इससे भी आपको बेहद आराम मिलेगा. और आपकी थकावट भी मिट जाएगी.और आप तरोताज़ा महसूस करेंगे.और हो सके तो पूरे सप्ताह में कम से कम एक व्रत या फ़ास्ट जरूर कीजिये इससे आपके शरीर की पाचनक्रिया भी दुरुश्त होगी और आपका सिर का दर्द भी दूर होगा.