ब्रश करने का सही तरीका – Brush Karane Ka Sahi Tarika

ब्रश करने का सही तरीका :- कई बार लोग ये अक्सर पूछते है कि क्या टूथब्रश इस्तेमाल करने का भी कोई सही तरीका होता है? और हमें किस तरह ब्रश करना चाहिए ? लेकिन क्या आप जानते है कि गलत तरिके से ब्रश करने से कई तरह की समस्याओं दांतो में हो जाती है जैसे उनमे गंदगी का जमा रहना, दांतो का हिलना और कमजोर हो जाना और भी कई प्रकार की समस्याएं होती है जो दांतो में अक्सर हो जाती है. शायद आप ब्रश करने का सही तरीका नहीं जानते होंगे. दांत हमारे शरीर और व्यक्तित्व का महत्वपूर्ण अंग हैं. शरीर के अन्य हिस्सों की तरह इनकी सफाई करना भी बहुत ही ज़रूरी है पर बहुत कम लोग जानते हैं कि ब्रश करने का सही तरीका क्या है?

ब्रश करने का सही तरीका

गलत तरीके से ब्रश करने से दांत साफ़ तो होते ही नहीं हैं साथ में दांतों को कई तरह के रोगों का सामना करना पड़ता है.हम लोग बचपन से सिर्फ एक ही तरीके से ब्रश करते आ रहे हैं या कहा जाये कि एक ही तरीका हमें पता है और वो है क्षैतिज रूप से (हॉरिज़ॉन्टली) मसूड़ों पर ब्रश करना. इस तरीके से मसूड़ों को नुकसान पहुँच सकता है. दांतो को सही तरीके से ब्रश करने का तरीका है उन्हें 45° पर ब्रश करें. हमेशा ब्रश को गोलाई में घुमाते हुए ब्रश करें और ब्रश करते समय हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि ब्रश करते समय कभी भी ब्रश को तिरछा न पकड़े क्योंकि ये आपके दांतो और मसूड़ों के लिए हानिकारक हो सकता है. और ऐसा करने से आपके मसूडों से खून भी आ सकता है और दांतो के बीच फंसी हुयी गंदगी भी ठीक तरह से साफ़ नहीं होती है.

इसलिए आपको हमेशा ब्रश करते समय इस बात ध्यान रखना चाहिए की ब्रश और दांतों के मध्य 45° का एंगल बनना चाहिए तभी वो ठीक तरह से साफ़ होंगे और उनकी गंदगी बाहर निकलेंगी. ब्रश करने के बिषय में आप को शायद कुछ बाते पता नहीं होगी. जैसे की कैसे ब्रश करें और कितने समय तक ब्रश करें और कम समय तक ब्रश करने से दांत न ही अच्छे से साफ़ होते हैं न ही सारा प्लाक यानी कचरा उन में से निकलता है. दूसरी ओर ज्यादा देर ब्रश करने से दांतों का इनमे मल निकल जाता है. इसलिए न तो अधिक देर तक ब्रश करना चाहिए न ही कम देर तक. सुबह और सोने से पहले दिन में दो बार दो से तीन मिनटों तक ब्रश करें.

और ऐसा करने से आपके दांत भी मजबूत रहते है और उनमे सड़न भी नहीं होती है और वो बहुत समय तक मजबूत बने रहते है.ब्रश करने के लिए टूथब्रश का चुनाव करते समय हमेशा मुलायम नायलॉन के और नर्म ब्रश को चुनें. अन्य ब्रश दांतो को साफ़ नहीं करते बल्कि इन से मसूड़ों को भी नुकसान पहुंचाता है. जिन टूथब्रश के रेशे ख़राब हो चुके हों वो दांतो को अच्छे से साफ़ नहीं कर पाते हैं. इसके अलावा अपने ब्रश को समय-समय पर बदलते रहें फ्लोराइड टूथपेस्ट का इस्तेमाल करें. इससे न केवल दांत साफ़ होते हैं बल्कि मजबूत भी होते हैं और दांतों में चिपके प्लाक भी इस टूथपेस्ट के प्रयोग से आसानी से निकल जातें हैं. और भी कई तरह के ब्रश बाजार में मौजूद है जिनका चुनाव आप आसानी से कर सकते है और जोकि आपके दांतों और मसूड़ों के लिए सबसे बेहतर होते है.

टूथब्रश करने का सही तरीका

इसलिए हमेशा ब्रश लेते समय इस बात का ख़ास ध्यान रखे की वो बहुत ज्यादा कड़क न हो. मुलायम ब्रश आपके लिए सबसे बेहतर रहेगा.ब्रश के चुनाव के साथ साथ आपको सही टूथपेस्ट का चुनाव करना होगा क्योंकि कुछ टूथपेस्ट काफी ज्यादा नुक्सानदेय होते है जिनके कारण मुँह में छाले भी हो जाते है इसलिएफ्लोराइड टूथपेस्ट का इस्तेमाल करें. इससे न केवल दांत साफ़ होते हैं बल्कि मजबूत भी होते हैं और दांतों में चिपके प्लाक भी इस टूथपेस्ट के प्रयोग से आसानी से निकल जातें हैं. और ब्रश करने का सही तरीका तो यही है आप सब कुछ अपने हिसाब से चुने जो आपके के लिए आरामदेय हो. और ब्रश करने का सही तरीका यही है.

कि आप दांतो को सारी तरफ अच्छे से ब्रश करें जैसे दाढ़ों पर और दांतो के पिछले भाग पर भी. नॉर्मली हम इन जगहों पर ब्रश नहीं करते. ब्रश को हमेशा अंदर की ओर घुमाएं और इसके साथ पीछे से आगे की ओर ब्रश करें. अपनी दोनों ओर की दाढ़ों पर भी अच्छे से ब्रश करें. इससे आपके दांत लम्बे समय तक मजबूत बने रहेंगे.कुछ ख़ास बातें है जो ब्रश करने का सही तरीका बताती है और जिनका हमें अच्छे से ध्यान रखना चाहिए जैसे दांतो को ब्रश करने के साथ-साथ अपनी जीभ को भी ज़रूर साफ़ करें. इसके लिए आप ब्रश के पीछे का भाग या टंग क्लीनर का प्रयोग करें.

दांतो को साफ़ करते हुए अधिक दवाब न डालें इससे मसूड़ों को नुकसान हो सकता है.ब्रश करने के बाद कुल्ला ज़रूर कर लें ताकि मुँह में जमी हुई गंदगी निकल जाये. खाना खाने के एकदम बाद ब्रश करना गलत हैं इससे दांत कमजोर हो जाते हैं.खाना खाने के कम से कम तीस मिनटों के बाद ब्रश करें. ब्रश करने के बाद अपने टूथब्रश को अच्छे से साफ़ करें. तो ये सब ब्रश करने का सही तरीका है.