गुस्से पर काबू कैसे करें – How To Control Anger

गुस्से पर काबू कैसे करें :- पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा लोग बीमारियों से ज्यादा अपने गुस्से से परेशान है. और यदि आप भी यदि शार्ट टेम्पर है या फिर आपको बहुत जल्दी गुस्सा आ जाताहै तो आप को भी इलाज की जरूरत है है ये बहुत ही महवत्पूर्ण है आपके सुखी जीवन के लिए. कई लोग ऐसे होते है जो गुस्से में अपना आपा खो देतेहै और गुस्से में कुछ भी कर देते है. और गुस्सा होने पर व्यक्ति को कोई भी बात समझते है तो उसे कोई भी बात ठीक से समझ नहीं आती है. बीमारी को ठीक करने से पहले उसके बारे जानना बहुत जरूरी है तो इसी तरह ये जानना भी जरूरी है की गुस्सा क्या है? और गुस्से पर काबू कैसे करें ?

गुस्से पर काबू कैसे करें ?

क्रोध “एक सामान्य और ज्यादातर स्वास्थ्यप्रद और मानव के शरीर के मन में उत्पन्न भावना” की तरह गुस्से को मान सकते है और गुस्से से उबार के बाद यदि आप इसे भुला पाते हैं तो यह ठीक है. हालाँकि जब हम anger को control नहीं कर पाते है तो जीवन के हर पहलू की समस्या को दावत दे देते हैं चाहे वो Physically हो, Mentally हो, Emotionally हो या फिर सामाजिक. गुस्से के कारण हमें कुछ भी समझ नहीं आता है. और गुस्से में कुछ भी कर बैठते है और इसी वजह से काफी नुकसान हो जाता है.

गुस्से से हमारे जीवन में ही बल्कि हमारे स्वस्थ पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है. और गुस्सा हमारी किसी परिस्थिति में मूलभूत प्रतिक्रिया सामना करे या भागे को शुरू करता है. Heart Beat में बहुत तेजी आ जाती है, Blood Pressure में वृद्धि और तनाव में वृद्धि, ये क्रोध के प्रारंभिक परिणाम हैं. Breathing की speed भी बढ़ जाती है. जब क्रोध आता है तो Body और Mind Disturb हो जाता है तो समय के साथ हमारे Metabolism में Changes आ जाता है जो न केवल Health को effect करता है बल्कि जीवन की सम्पूर्ण गुणवत्ता को भी प्रभावित करता है.

गुस्से पर काबू कैसे करें और मन को शांत कैसे करें

गुस्से के कारण हमारे अच्छे गुण भी छुप जाते है. गुस्से के कारण हमे कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है. जैसे Heart Attack, पक्षाघात, रोग प्रतिकारक क्षमता में कमी, skin Problems, अनिद्रा, High blood Pressure, Digest Related Problems, चिंता और अवसाद, सिरदर्द, Negative Emotions और कई बार तो गुस्से के कारण जान से मरने मारने की नौबत आ जाती है. गुस्सा हमारी Thinking Power को खत्म कर देता है, और ज्यातर लोगो को गुस्सा उनकी खुद की गलती के वजाये दूसरों की गलती पर ज्यादा आता है और वो खुद अपनी गलती को स्वीकार नहीं करते है.

इसी वजह से और भी ज्यादा क्रोध आता है. गुस्से पर काबू कैसे करें ये सभी लोग जानना चाहते है.गुस्से को काबू करने के लिए अपने दिमाग को शांत रखें और अपने Mind को अपना दोस्त बनाये क्योंकि दिमाग यदि आपकी बात मानने लगे तो आप को गुस्सा बिलकुल भी नहीं आएगा. क्योंकि भास्त्रिका व नाड़ी शोधन प्राणायाम मन की बेचैनी को कम करने में मदद करते हैं. जब मन शांत व स्थिर होता है, आपके झुंझलाने या क्रोधित होने की संभावना कम हो जाती है.

और जब भी आपको बहुत तेज गुस्सा आये तो आप कुछ गहरी साँसें ले व छोड़ें यदि आप ऐसा कुछ देर तक करते है तो आपका गुस्सा तुरंत ही ठंडा हो जायेगा जब आप क्रोध में हैं, आँखे बंद करें और कुछ गहरी साँसें लें और देखे कि मन में क्या हलचल हो रही है.और क्या आप जानते है की सांस तनाव को दूर करती है और मन को शांत होने में मदद होती है.अगर आप रात में ठीक से नहीं सो पाते है तो आपको गुस्सा बहुत जल्दी आ जायेगा. क्योंकि शरीर की Exhaustion व Nervousness मन में झुंझलाहट व Anxiety यानी गुस्सा लाती है. इसलिए हर रोज़ 6 – 8 घंटे सोना बहुत ही महत्वपूर्ण है.

ये आपके Mind Or BOdy का Relax निश्चित करता है. और आपके बेचैन होने की संभावना कम होती है. जिससे क्रोध नहीं आता है और नींद भी आपके गुस्से को शांत करने में आपकी मदद करती है.आप मैडिटेशन करे आपको लाभ होगा.योग, प्राणायाम का नियमित अभ्यास और आहार पर ध्यान असहजता को शांत करता है. और जब भी आपको बहुत तेज गुस्सा आएं तो आप कुछ गुनगुनाने लगे ये आपके गुस्से को खत्म कर देगा. क्योंकि शान्ति और क्रोध दोनों ही एक दूसरे के विपरीत है और गुनगुनाना शांति को लाता है.