शरीर की कमजोरी दूर करने के उपाय

शारीरिक कमजोरी दूर करने के उपाय :- हर व्यक्ति अपने आप को स्वस्थ और फिर रखना चाहता है लेकिन लोगों के पास करोड़ों रुपये होने के बाद भी उनका स्वस्थ हमेशा ख़राब रहता है किसी ने कहा सबसे बड़ी दौलत सेहत है ही. अगर आप स्वस्थ है तो आप सबसे अमीर व्यक्ति है.इस समस्या के कारण कई बार अल्प-विकसित या खोड़-ग्रस्त शिशु भी उत्पन्न होते हैं. लेकिन कई लोगो को कमजोरी जैसे कम वजन, जोड़ो में दर्द आदि जैसी समस्या होती है. और उन्हें ठीक करने के लिए वे कई तरह के डॉक्टरी इलाज और उपाय करते है. तो अगर भी अपना इलाज कम से कम समय में करना चाहते तो शारीरिक कमजोरी दूर करने के उपाय को ध्यान से पढ़ें. ये उपाय आपकी कमजोरी को करते है साथ ही आपके वजन को बढ़ाते है.

इन उपाय को जान ने से पहले ये जानना जरूरी है कि हमारे शरीर में ये कमजोरी किस वजह से होती है. और इसके क्या कारण है. शारीरिक कमजोरी के कारण जैसा कि हम सब जानते है कि शरीर को ऊर्जा भोजन से प्राप्त होती है. और भोजन में मौजूद पोषक तत्व शरीर को शक्ति प्रदान करते है. जिससे हमारा शरीर हष्ट- पुष्ट बना रहता है. लेकिन शरीर को पोषक तत्व न मिलने के कारण कमजोरी आ जाती है. आज कल के भाग दौड़ भरी जिंदगी में कई सारी टेंशन और डर रहता है. जिसके कारण खाये खाने का पोषण शरीर को नहीं लगता. और शरीर में कमजोरी आ जाती है. जंक फ़ूड के कारण भी पेट से जुडी समस्याएं हो जाती है. जिससे भी शरीर पर प्रभाव पड़ता है.  जिससे दस्त, उल्टी होती है और शरीर में भी कमजोरी आती है. बहुत देर तक मल-मूत्र को रोकने के कारण भी कई समस्याएं होती है और इसके कारण भी कमजोरी आ जाती जाती है.

शारीरिक कमजोरी दूर करने के उपाय

जिस व्यक्ति का शरीर बड़ा और हष्ट-पुष्ट होता है वे हमेशा शादी, पार्टी या किसी भी जगह आकर्षण का केंद्र बने रहते है. और सबसे बड़ा कारण कमजोरी का ये है कि वे अपना खाना ठीक समय पर नहीं करते है. यदि आप नियमित समय पर उचित मात्रा में आहार लेते है जिसमे प्रोटीन और विटामिन्स भरपूर मात्रा में हो उस भोजन और फल का सेवन करें तो आपकी कमजोरी दूर हो जाएगी. और अगर आप कमजोरी दूर करना चाहते है तो आयुर्वेद में कई तरह के औषधियों का वर्णन किया है जो आपको सेहतमंद बनाने में आपकी मदद करेंगे.

पाचन शक्ति में गड़बड़ी के कारण भी व्यक्ति को कमजोरी आ सकती है क्योंकि पाचन तंत्र ख़राब होने के कारण दस्त उलटी कब्ज जैसी कई समस्यां हो जाती है. जिसकी वजह से आपका शरीर कमजोर हो जाता है. इसके अलावा मानसिक, भावनात्मक तनाव, चिंता लेने वाले व्यक्ति को भी कमजोरी हो जाती है. शरीर में हार्मोन्स असंतुलित होने के कारण भी व्यक्ति में  कमजोरी आ जाती हैं. ऐसे व्यक्ति को कोई भी रोग जैसे- सांस का रोग, क्षय रोग, हृदय रोग, गुर्दें के रोग, टायफाइड आदि बीमारियां बहुत जल्दी घेर लेती है. इसलिए जिन व्यक्ति को अपनी कमजोरी दूर करना तो नीचे लिखें उपाय को कर सकते है.

शारीरिक कमजोरी दूर करने के उपाय
यदि आप अपनी कमजोरी को दूर करना चाहते तो रोजाना टमाटर का ताज़ा सूप का सेवन करें क्योंकि टमाटर में कई तरह के पशक तत्व होते है जो आपकी भूख बढ़ाने में आपकी सहयता करते है और शरीर में होनी वाले रोग एनिमिआ यानि खून की कमी दूर करके आपको शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है जिससे आपके शरीर की कमजोरी भी दूर हो जाती है. ये केवल आपके शरीर पर ही काम नहीं करता बल्कि आपके चेहरे की रंगत को बढ़ाने का कार्य भी करता है प्रतिदिन एक टमाटर खाने से चेहरे पर लाली आ जाती है. और आपके गाल भी तंत्र की तरह भरे हुए लाल हो जाते है.

चाय-कॉफी पीना सभी को पसंद होता है और उनके फायदे होने के साथ साथ इनके सेवन के नुकसान भी कई सारे है लेकिन इसके नुकसान कम और फायदे जयदा है. यदि आप कॉफ़ी का सेवन करते है तो आपकी मानसिक कमजोरी दूर होती है जिससे तनाव और डर खत्म हो जाता है. जो कमजोरी का सबसे बड़ा कारण होते है. और इतना ही इसे पीने से आपके शरीर सक्रिय बना रहता है और आलस भी कम आता है. भोजन करने के बाद कॉफी पीने से पेट हल्का महसूस करता है. और कॉफी पीने से पेट की छोटी-मोटी गड़बड़ियाँ जैसे गैस और कब्ज  भी दूर हो जाती हैं. और आपकी कमजोरी भी दूर हो जाती है.

दूध में कई तरह के पोषक तत्व होते है. जिससे इसे पीने से शरीर में शक्ति आती है. और पुरुषों की  नपुंसकता को दूर करने के लिए सर्दियों के मौसम मे दूध में केसर मिलाकर पीने से मर्दाना शक्ति और  पौरुष शक्ति बढ़ती है. और सेक्स करें का मज़ा ले सकते है आपकी शारीरिक कमजोरी भी दूर जाएगी. और आप रोजाना बादाम वाला दूध पीते है तो थकान कम हो जाती है जिससे कमजोरी महसूस नहीं होती है. इसलिए रोजाना बादाम वाला दूध अवश्य पीएं. मुनक्का शक्तिवर्धक होता है. दिन में दो बार मुनकके का सेवन करने से कमजोरी दूर होती है. विटामिन ई से भरपूर पोदीना शरीर को सुस्त और कमज़ोर होने से रोकता है. और पोदीना शरीर की नसों को ताकत देता है जिससे आपकी मर्दाना शक्ति बढ़ जाती है.

मांसपेशियों में आयी कमजोरी को दूर करने के लिए थोड़ा नमक लेकर और उस नमक को ठंडे पानी में मिला लें और फिर उस घोल से पूरे शरीर पर मालिश करें. यह उपाय करने पर शरीर की मांसपेशीयों को आराम मिलेगा. और थकान के साथ कमजोरी भी दूर होगी. पुरुषों की सबसे बड़ी समस्या धातु की दुर्बलता का होना है जिसके कारण वह ज्यादा तनाव में रहता है. और इसे  दूर करने के लिए आप पके हुए फालसा खाएं और शहद में पोस्तादान पीस कर हर रोज सुबह और शाम को उसका सेवन करने पर शरीर की कमजोरी की समस्या दूर होती है. और धातु भी गाढ़ी हो जाती है और आप सम्भोग का आनंद भी ले सकते है.

जब आपको कोई हो जाती है तो कमजोर पढ़ जाते है तो उस कमजोरी को दूर करने के लिए नीम की छाल का काढ़ा बना कर पीएं आपको लाभ मिलेगा. कमजोरी दूर करने के लिए पाढ़ल के फूलों के गुलकंद का सेवन करें ये भी आपके लिए एक बेहतर उपाय है. क्योंकि आयुर्वेद में इन सब का उल्लेख बहुत ही अच्छे से किया गया है. और देशी खजूर भी शक्ति वर्धक फल है. खजूर के बीज दूर कर के खजूर में मक्खन भर कर खाने से शरीर शक्तिवान बनता है. और इससे आपका वजन भी बढ़ जाता है. और अपने वीर्य बढ़ाने के लिए, शरीर में नया खून शरीर में बढ़ाने के लिए और कमजोरी मिटाने के लिए आप नियमित रूप से आठ से दस खजूर का सेवन करें और खजूर खाने के बाद आधा गिलास या एक कप दूध पिएंगे तो आप बाहुवली की तरह पुरषार्थवान बन जायेंगे.

शरीर में विटामिन और खनिज तत्वों की कमी दूर करने के लिए बागी सलाद के पत्तों का सलाद खाने के साथ खाना चाहिए. प्रति दिन एक गिलास दूध के साथ अलसी के बीज साबुत निगलने से भी शरीर की कमजोरी दूर होती है. यह प्रयोग दिन में दो बार भी किया जा सकता है, पर शुरुआत एक बार से करें. गाजर का हलवा शक्तिवर्धक होता है और यदि आप गाजर का रस रोजाना पीते है तो आपकी भूख बढ़ती है जिससे आपका वजन भी बढ़ जाता है. दुबले और कमज़ोर व्यक्ति को हर रोज़ गाजर का सेवन करना चाहिए.

कपूर, बास, बादाम और इलायची के दाने, इन सभी वस्तु ओं को पचास-पचास ग्राम लेकर रात इन्हे पानी में भिगो कर रखें और फिर इन सबको सुबह अच्छी तरह से पीस लें. और इस पीसे हुए मिश्रण को कम से कम दो लीटर दूध में मिलाकर हल्की आंच पर पकाएं और जब ये गाढ़ा हलवे जैसा बन जाएँ तो उसमे बीस ग्राम चाँदी का वर्क मिला लें और इस तैयार किए हुए पदार्थ को प्रति दिन दस से पंद्रह ग्राम खाएं ये आपकी कमजोरी ही बल्कि आपकी कई समस्यों को दूर करने में आपकी मदद करेगा. और इस उपचार से शरीर रुष्ट-पुष्ट बन जाएगा और नेत्रों की रोशनी भी बढ़ेगी.