यूरिक एसिड कम करने के घरेलू उपचार- Uric Acid Kam Karne Ke Garelu Upchar

यूरिक एसिड कम करने के घरेलू उपचार :- शरीर में यदि यूरिक एसिड बढ़ जाए तो इससे आपको कोई समस्या हो जाती हैं और अगर आप अपने शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड को कम करना चाहते हैं तो आप कुछ घरेलू उपाय कर सकते हैं. और यूरिक एसिड के बढ़ने से हमारे शरीर के जोड़ों में दर्द होना शुरू हो जाता है. हमारे शरीर में यूरिक एसिड प्यूरिन के टूटने से बनता है इसका मतलब आप जो भी खाना खाते हैं. उसके अंदर उसमें मौजूद तत्व आपके प्यूरिन की बॉन्डिंग को टूटती है और इससे यूरिक एसिड लेवल बढ़ जाता है. यूरिक एसिड कम करने के घरेलू उपचार बहुत ही सरल है.

यूरिक एसिड लेवल या यूरिक एसिड का बढ़ना आप पहले से किस प्रकार पता कर सकते हैं इसके कई लक्षण होते हैं जैसे आप के जोड़ों में सूजन आ जाती है और आपके पैरों के अंगूठे में भी सूजन आने लगती है,  आपके शरीर के जोड़ों में गांठ पड़ जाती है, उन जोड़ों में बहुत तेज दर्द होने लगता है, सीढ़ियां चढ़ने या उठने बैठने पर जोड़ों में बहुत अधिक दर्द होता है. यदि आप किसी एक जगह पर ज्यादा देर तक बैठे रहते हैं, तो भी आपको बहुत तेज दर्द होता है. यूरिक एसिड के बढ़ने के कुछ लक्षण है. यूरिक एसिड हमारे शरीर से पेशाब के रूप में बाहर निकलता है, लेकिन कभी-कभी यूरिक एसिड हमारे शरीर के भीतर ही रह जाता है.यूरिक एसिड कम करने के घरेलू उपचार बहुत ही आसान है. 

यूरिक एसिड कम करने के घरेलू उपचार

और शरीर में इसकी मात्रा बढ़ने लगती है और इसी कारण से शरीर में गठियाबाद जैसी समस्याएं शुरू हो जाती हैं और यूरिक एसिड की मात्रा को बढ़ने से रोकना बहुत जरूरी हो जाता है और इसे नियंत्रित करने के लिए आपको इसके पढ़ने के कारणों को भी जानना होगा यदि आपको यह समस्या अनुवांशिक है वैसे भी नियंत्रित किया जा सकता है लेकिन यदि आपके शरीर में किसी भी प्रकार की समस्या होती है जैसे किडनी का ठीक से काम न करना आदि तो आप किसी अच्छे डॉक्टर की सलाह लें.

यदि आपने यदि आप अपने खानपान के तरीकों में बदलाव करें तो आपको यह समस्या नहीं होगी यदि आप इस समस्या से मुक्ति पाना चाहते तो ज्यादा से ज्यादा पानी पिए क्योंकि पानी की भरपूर मात्रा से शरीर में होने वाले कई विकार आसानी से दूर हो जाते हैं और हो सके तो दिन में कम से कम 3 से 4 लीटर पानी अवश्य पिएं क्योंकि पानी पीने से शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड मुठ के द्वारा बाहर निकल जाता है और जितना हो सके उतना फाइबर युक्त भोजन का सेवन करें. यूरिक एसिड कम करने के घरेलू उपचार बहुत ही आसान है.अगर आपकी शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बहुत तेजी से बढ़ रही है तू आपको तो आपको भरपूर फाइबर युक्त भोजन का इस्तेमाल करना चाहिए.

दलिया, पालक, ब्रोकली आदि के सेवन से आप शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड को कम कर सकते हैं और जहां तक हो सके बिक्री फूड को ना लें माना कि बेकरी फूड स्वाद में बहुत ही लाजवाब होते हैं लेकिन इन में शुगर की मात्रा बहुत अधिक होती है इसके अलावा इसके सेवन से शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बहुत तेजी से बढ़ने लगती है यदि आप यूरिक एसिड को कम करना चाहते हैं तो पेस्ट्री केक कुकीज आदि को खाना छोड़ दें और यदि आप खाना जैतून के तेल में यानी ऑलिव ऑयल में पकाते हैं तो आप यूरिक एसिड को नियंत्रित कर सकते हैं क्योंकि इसमें विटामिन ए की मात्रा भरपूर होती है जो खाने को पोषक तत्वों से भरपूर बनाती है.

यूरिक एसिड बढ़ने के लक्षण

जितना हो सके चेरी का सेवन करें क्योंकि चेरी में एंटीइंफ्लेमेटरी तत्व होते हैं. यूरिक एसिड की मात्रा को शरीर में नियंत्रित रखते हैं यदि आप प्रतिदिन तीसरी करते हैं शरीर में बढ़े हुए यूरिक एसिड को नियंत्रित कर सकते हैं लेकिन ध्यान रहे सभी को एक साथ ना लें और चेरी को थोड़े समय के अंतराल में खाएं और जितना हो सके अपने भोजन में विटामिन सी की मात्रा यदि आप प्रतिदिन 500 ग्राम विटामिन सी का सेवन करते हैं तो आपके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा नियंत्रित हो जाएगी.

पर जितना हो सके मछली और मीट यानी मांस का सेवन ना करें क्योंकि यह आपके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को बहुत तेजी से बढ़ाते हैं कुछ ऐसी मछलियां होती हैं जिन्हें नहीं खाना चाहिए जैसे साइनस साइनस और नगरी नगरी कतई ना खाएं और यदि आप अल्कोहल का सेवन करते हैं यानि शराब का सेवन करते हैं तो आपके शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा बहुत तेजी से बढ़ेगी इसीलिए आप शराब का सेवन ना करें और डिब्बाबंद खाने का सेवन ना करें.

क्योंकि डिब्बाबंद खाने में पौष्टिक पोस्टिक तत्व खत्म हो जाते हैं. यूरिक एसिड की मात्रा को नियंत्रित नहीं कर पाते हैं शराब आपके शरीर को डिहाइड्रेट कर देता है, इसलिए प्यूरिन से उच्च खाद्य पदार्थों के शराब की बड़ी मात्रा को लेने से बचना चाहिए. बीयर में यीस्ट भरपूर होता है, इसलिए इसके सेवन से दूर रहना चाहिये. हालांकि वाइन यूरिक एसिड के स्तर को प्रभावित नहीं करती है. यूरिक एसिड बढ़ने से कई प्रकार की समस्याएं होती हैं और यह किन का यह किन कारणों से होती है.

 यूरिक एसिड का आयुर्वेदिक उपचार

इसका जानना भी जरूरी है शरीर में यदि आपका मेटाबॉलिज्म किस तरह से काम कर रहा है और आपकी पाचन क्रिया सही हैं तो आपको इसकी समस्या नहीं होगी फिर कैसेट के कारण बढ़ने के कारण यूरिक एसिड के बढ़ने के कारण शरीर में स्टोन भी बन जाता है लेकिन यह भी उनको स्टोन की समस्या आएगा. यूरिक एसिड कम करने के घरेलू उपचार बहुत ही आसान है. यदि शरीर में स्टोन की समस्या बढ़ जाती है तो उसे आपकी किडनी भी फेल हो सकती है और इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप इलायची पान का पत्ता और सुपारी इनका सेवन करें इससे शरीर में स्टोन की समस्या खत्म हो जाती है.

छोटी-छोटी लहसुन लें और इसे पानी के साथ मिलाकर सुबह पीने से आपका शरीर का कोलेस्ट्रॉल भी कम होता है और शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा भी कम हो जाती है और यह आपके शरीर को डिटॉक्स भी करती है लेकिन इसे काट कर ना खाएं इसे आप कैप्सूल की तरह ही लें हरी प्याज का सेवन करें क्योंकि यह आपके शरीर में प्रोटीन को बढ़ाता और मेटाबॉलिज्म को भी बढ़ाता है. यूरिक एसिड कम करने के घरेलू उपचार से आप पूरी तरह रोग मुक्त हो जायेंगे.

कई देश ऐसी चाइना जापान कोरिया इन जगहों पर सुशील को अधिक लिया जाता है क्योंकि यह बहुत ही पौष्टिक तत्व से भरपूर होते हैं और एक नींबू को ले और नींबू को तवे पर 3किलो और इसे सीखने के बाद इसमें काला नमक मिलाकर इसे चूसे लेकिन इसे इतना गर्म ना करें कि यह जल जाए ऐसे भी आपका जो पड़ा हुआ यह कैसे कम हो जाएगा बढ़ा हुआ यूरिक एसिड कम हो जाएगा इन घरेलू उपायों को करके आप अपने शरीर में पड़े हुए यूरिक एसिड को कम कर सकते हैं बढ़े हुए यूरिक एसिड को कम कर सकते हैं बड़े बड़े हुए यूरिक एसिड को कम कर सकते हैं.