याददाश्त बढ़ाने के लिए आसान घरेलू उपाय

याददाश्त बढ़ाने के उपाय: आज के समय में हर एक व्यक्ति बिजी है. क्योकि आज के समय में समय इतनी तेजी से निकल रहा है| कि इंसान के पास आज खुद के लिए भी समय नहीं है.

और ऐसे में ही इतने सारे काम है| जिन्हें करना होता है. ऐसी स्थिति में हर छोटी से छोटी बातो या चीजो को याद रख पाना मुमकिन नहीं है| क्योकि हमारा दिमाग आपने हिसाब से ही काम करता है|

Yaddasht Badhane Ke Tips In Hindi
Yaddasht Badhane Ke Tips In Hindi

मानव आपने दीमाग का केवल 5-8% ही उपयोग करता है| जिसके कारण दिमाग कम और धीमी गति से कार्य करता है. और हम कहते है कि हम कुछ छोटी बातो या चीजो को भूल जाते हैं| यदि हम अपने दिमाग का पूरी तरह से विकास कर लें तो हम बहुत सी होने वाली परेशानियों से बच सकते है. कही बार आपने सुना होगा|

याददाश्त बढ़ाने के उपाय और घरेलू उपचार

कि कुछ लोग ऐसे भी होते है जो किसी भी बात या वस्तु को तुरंत ही भूल जाते है ऐसा नहीं है| कि उन्होंने उनके दिमाग का विकास नहीं किया है ऐसा इसलिए है बल्कि ये एक बीमारी भी होती है| जो की शारीर में जरूरत होने वाले पोष्टिक तत्वों के न होने से होती है| क्योकि आज के समय में न ही कोई खाने पर ध्यान देता है और न ही आपने आप पर|

भूल जाना ये सिर्फ किसी एक के लिए ही नहीं है बल्कि ये समस्या बच्चो को बड़ो को और तो और बूढ़े व्यक्ति में भी हो सकती है| हमारे हर काम करने के लिए दिमाग ही होता है यदि दिमाग ही काम न करे तो इंसान किसी भी काम का नहीं होता है दिमाग से ही हम शारीर से हर काम करते है जैसे ऊँगली को हिलाना और सारे काम आदि|

याददाश्त कमजोर होने के कारण

दिमाग का कमजोर होना ये हमारे रोज की किये गए कामो के कारण ही होता है हमारे दिमाग में पॉवर होता है| जिसके कारण हम हर कम करते है जिन कामो से हमारे दिमाग को नुकसान होता है| उन कामो को हमें तुरंत ही बंद कर देना चाहिए ताकि हम आगे आने वाली समस्या से बच सके और हमारे दिमाग को तेज कर सके|

  1. स्वास्थ मनुष्य को दिन में 24 घंटे में से 7-8 घंटे की नींद लेना जरुरी होता है लेकिन काम के कारण ये नींद पूरी नहीं हो पाती है और दिमाग थक जाता है जिस कारण दिमाग काम करना बंद कर देता है|
  2. रोज सुबह नाश्ता न करना और देर तक के बिना खाए ही काम करने से|
  3. आवश्यकता से अधिक खाना खाने से, और खास तौर पर रात को सोते समय खाने से|
  4. दिनभर में पानी कम पीना ऐसा करने से सिर्फ दिमाग ही कमजोर नहीं है बल्कि और भी कई सारी परेशानियाँ होती है इसलिए पानी को कभी भी कम नहीं करना चाहिए|
  5. एक ही समय पर एक साथ कई सरे काम करने से दिमाग पर ज्यादा असर होता है और दिमाग में थकान हो जाती है इस कारण से भी दिमाग कमजोर हो जाता है|
  6. किसी भी हानिकारक पदार्थ का सेवन करने से जैसे बीडी, सिगरेट, शराब आदि के सेवन से|
  7. जैसा की आज देखा जा रहा है कि हर कोई काम में इतना बिजी है कि उसे खुद के लिए टाइम ही नहीं है और ऐसे में वे बहुत ही अधिक चिंता करता है जो की दिमाग को सबसे अधिक कमजोर बनाने का काम करती है इसलिए चिंता अधिक नहीं करना चाहिए|

दिमाग कमजोर होने के लक्षण

  • कोई भी बात या किसी भी चीज को बहुत ही जल्द भूल जाना|
  • दिमाग को थका हुआ महसूस करना|
  • सिर अधिक दर्द होना|
  • किसी काम को करने में अधिक समय लगना|
  • चोट लगने पर तुरंत उसका पाता न चलना|
  • आपको ऐसा महसूस होना की आपके दिमाग का विकास नहीं हो रहा है|
  • किसी भी काम में मन नहीं लगना|

दिमाग की स्मृति शक्ति को बढ़ने के उपचार

बादाम: एक गिलास पानी लीजिये और 5-7 बादाम के लेगे पानी में गला दे| और रात भर रखे रहने दे फिर सुबह उठ कर बादाम के छिलके को निकल ले और बारीक़ पेस्ट बना ले इस पेस्ट में 2 चम्मच शहद मिलाकर इस पेस्ट को एक गिलास दूध में मिलकर पी ले|

बादाम
बादाम दिमाग को तेज करता हैं

और दूध को पीने के एक घंटे तक कुछ भी नहीं खाना पीना चाहिए. आप चाहे तो इस बादाम के पेस्ट को मक्खन के साथ और मिश्री के साथ भी खा सकते है| आप यदि एस उपाय को रोज करते हैं. तो आपका दिमाग कंप्यूटर की तरह तेज हो जायेगा|

अखरोट: दिमाग को तेज़ करने के लिए 20 ग्राम अखरोट और 10 ग्राम किशमिश को रोजाना खाएं. इससे आपका दिमाग बहुत तेज हो जायेगा| और गर्मी के दिनों में आप इस उपाय को कम कर दें. क्योकि ये गर्मी करता है. इसलिए गर्मी के दिनों में इनका सेवन कम ही करना चाहिए|

काली मिर्च: 5 से 7 काली मिर्च लीजिये और उसमे 25-30 ग्राम मक्खन और मिश्री मिला लें और फिर खाएं| इससे आपके दिमाग की कमजोरी दूर हो जाती है. और काम में मन लगने लगता है|

घी की मालिश: आपके दिमाग की कमजोरी को दूर करने के लिए घी सबसे अच्छा है. गाय के दूध से निकले हुए घी को ले| और उससे आपने दिमाग की मालिश करें. इससे आपका दिमाग तेज़. हो जायेगा और दिमाग की कमजोरी भी दूर हो जाएगी|

घी की मालिश
घी की मालिश नियमित रूप से करने से भी दिमाग तेज होता हैं

आंवले का मुरब्बा: आंवला जो की विटामिन C का स्त्रोत होता है| इसका मुरब्बा बना कर रोज सुबह खाली पेट खाने से दिल और दिमाग दोनों ही को ताकत मिलती है| यदि आप इसे खाना नहीं चाहते तो आप एक चम्मच आंवले के रस में 2 चम्मच शहद मिला कर भी सेवन कर सकते है|

बच्चो की याददाश्त बढ़ाने के उपाय

दही: दही में एमिनो एसिड होता है. जो चिंता को दूर करने में सहायक होता है. और दिमाग को शांत करता है| आपने बच्चो को किसी भी प्रकार की चिंता से दूर रखने के लिए उन्हें रोजाना खाने में दही भी खिलाये|

दूध: बच्चो के लिए दूध तो लाभकारी होता ही है| साथ ही एक गिलास दूध में 2 चम्मच शहद मिलाकर पिलाने से बच्चों का दिमाग तेज होता है. और बच्चे हर काम के लिए एक्टिव भी रहते है|

दिमाग के खेल: बच्चों के दिमाग का विकास करने के लिए बच्चों के साथ दिमाग से खेले जाने वाले खेलों को खेलना चाहिए| जिससे उनके दिमाग का विकास हो सके और उनका दिमाग भी सेहतमंद रहे|

बच्चो की याददाश्त बढ़ाने के उपाय
बच्चो की याददाश्त बढ़ाने के उपाय
बच्चो को दिमाग कमजोर होने से बचाने के उपाय
  • बच्चे को रोज दिन में एक घंटे की नींद दे|
  • बच्चो के साथ अच्छा व्यवहार करें|
  • बच्चो को चिंता से दूर रखे|
  • बच्चो के साथ दिमाग के खेल खेले ताकि उन्हें अच्छा लगे|
  • बच्चो को पढाई में न्यू चीजे सिखाये|
  • बच्चो के साथ समय बिताये|
  • बच्चो को खाना खिलते समय उनसे बाते करें|
  • बच्चो को हानिकारक बातो व चीजो से दूर रखे|
दिमाग तेज़ करने लिए खाने में क्या खाना चाहिए 

मस्तिष्क की कमजोरी दूर करने के लिए सेब एक अचूक इलाज है ऐसे रोगी को प्रतिदिन एक सेब खाने को दें| इसके अतिरिक्त रोगी को दोपहर तथा रात को भोजन में कच्चे सेबों की सब्जी दें| शाम को एक गिलास सेब का रस दें तथा रात को सोने से पूर्व एक पका मीठा सेब खिलाएं इससे एक महीने में ही रोगी की दशा में सुधार आने लगता है|

जामुन खाने से दिमागी कमजोरी दूर होती है अध्ययन में पता चला है कि अधेडावस्था में काला जामुन खाने से दिमाग को कमजोर होने से रोक सकता है| शोधकर्ताओं के अनुसार अगर अधेड उम्र की महिलाएं नियमित जामुन खाएं तो उनके दिमाग की कमजोरी को ढाई साल तक रोका जा सकता है| (याददाश्त बढ़ाने के उपाय)