जमीन पर बैठकर खाना खाने के फायदे – Zameen Par Baitkar Khana Khane Ke Fayde

जमीन पर बैठकर खाना खाने के फायदे : – आजकल के समय में लोग नीचे बैठकर खाना खाने में कतराते है क्योंकि उन्हें लगता है की यदि वे नीचे बैठकर खाना खाते है तो उनकी इज्जत लोगों के सामने कम हो जाएगी. उन्हें जमीन पर बैठकर कर खाना खाने  से शर्मिंदगी महसूस होती है. और ज्यादातर टेबल कुर्सियों पर बैठकर खाना खाने का प्रचलन है. लेकिन क्या आप जानने जमीन पर बैठकर खाना खाने के फायदे कितने सारे है यदि आप नहीं जानते है तो जाने के लिए इस पोस्ट को अच्छी तरह से पढ़ें.

शायद आपको पता होगा की प्राचीन काल में बड़े-बड़े ऋषि-महर्षि जमीन पर बैठकर ही खाना खाते थे इसलिए नहीं की असभ्य और निचले वर्ग के थे बल्कि इसलिए क्योंकि जमीन पर बैठकर खाना खाने के कई सारे फायदे होते है.जब जमीन पर बैठकर खाना खाते है तो केवल आप खाना ही नहीं खाते बल्कि एक योग भी कर रहे होते है.हमारी भारतीय परंपरा के अनुसार जमीन पर बैठकर ही भोजन किया जाता है और जिस मुद्रा में हम खाना खा रहे होते है उसे सुखासन या पद्मासन की तरह देखा जाता है. यह आसन हमारे स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत लाभदायक है. और इस तरह से आप केवल भोजन ही नहीं बल्कि योग भी कर रहे होते है. इसलिए अपने स्वस्थ को ठीक रखने के लिए आप लोगों को जमीन पर बैठकर ही भोजन करना चाहिए.

जमीन पर बैठकर खाना खाने के फायदे

और जब हम जमीन पर बैठकर खाना खाते है तो इससे आपकी रीढ़ की हड्डी के निचले भाग पर जोर पड़ता है, जिससे आपके शरीर को आराम मिलता है और और तरह से आपकी कमर में कभी भी दर्द नहीं होता है. इस तरह बैठने से आपकी सांस थोड़ी सी धीमी पड़ती है, मांसपेशियों का खिंचाव कम होने के कारण आपके शरीर में रक्तचाप में भी कमी आती है. जिससे आपको हाई ब्लड प्रेस्सेर या लौ ब्लड प्रसेर की समस्या नहीं होती है. और ह्रदय से संबंधित बीमारियों से बचे रहते है.

जब आप इस तरह से भोजन करते है तो आपके इस आसन में बैठने से पाचन क्रिया भी सुचारु रुप से चलती रहती है. जिसके कारण आपके द्वारा किया गया भोजन जल्दी पच जाता है. जमीन पर बैठकर खाना खाने से फायदे यही तक सीमित नहीं है बल्कि इस तरह भोजन करने से आप भोजन का लुत्फ उठाते और योग भी कर रहे होते है.जमीन पर बैठकर खाना खाने से आपको खाने के लिए खाने की थाली की और झुकना पढता है जिससे एक प्राकृतिक मुद्रा में आप को बैठना पड़ता है  और भोजन करते समय आप लगातार आगे होकर झुकते और फिर पीछे होने की झुकते है ये प्रक्रिया आप रहते है इससे आपके पेट की मांसपेशियां निरंतर कार्य करती है जिसके कारण आपकी पाचन क्रिया में सुचारु रहती है. और आपके द्वार किये भोजन का सही लाभ आपको मिलता है.

और जब हम जमीन पर बैठकर खाते है तो सभी परिवार वाले के साथ भोजन करने परिवार के लोगों में मध्य में मधुर संबंध स्थापित होता है. और जब सब लोग एक साथ ही पद्मासन में बैठकर खाना खाते है तो मानसिक तनाव दूर होता है और स्वस्थ भी ठीक रहता है और अपने परिवार के साथ एक अच्छा समय भी व्यतीत कर पाते है.जमीन पर बैठकर भोजन करने से पाचन क्रिया सही रहती है. जिससे आपका सारा शरीर भी स्वस्थ रहता है जमीन पर बैठने के लिए आपको अपने घुटने मोड़ने पड़ते हैं. जिसके कारण आपके घुटनों को भी आराम मिलता है और उनमे दर्द होने जैसे समस्या भ्ही नहीं होती है और ये भी बेहतर व्यायाम होता है. जिससे घुटनो में लचक बनी रहती है जिसकी वजह से आप जोड़ों की समस्या से बच रहते है.

जब आप जमीन पर बैठकर खाना खाते है तो तब एक योग आसान करते है जिसे पद्मासन कहते है यदि आप इस तरह बैठते हैं तो आपके पेट, पीठ के निचले हिस्से और कूल्हे की मांसपेशियों में लगातार खिंचाव रहता है, जिसकी वजह से दर्द और असहजता से मुक्ति मिल जाती है और आपकी मांसपेशियों में खिंचाव लगातार होता है रहता है तो इससे स्वास्थ्य में कई तरह है के अंतर आते है और बीमार बहुत कम होते है. जमीन पर बैठकर खाना खाने के फायदे बहुत सारे है

यदि आपका वजन बहुत ज्यादा है या फिर कई तरह के व्यायाम करने के बाद भी कम नहीं हो रहा है. तो आपको वजन कम करने के लिए जमीन पर बैठकर भोजन करना चाहिए क्योंकि जमीन पर बैठाना और उठना, एक अच्छा व्यायाम होता है. भोजन करने के लिए तो आपको जमीन पर बैठना ही होता है और फिर उठना भी एक अर्ध पद्मासन होता है जोकि आपके भोजन को पचाने में आपकी मदद करता है जिससे आपका वजन भी कम हो जाता है और  आपकी पाचन तंत्र भी मजबूत होता है. और घुटनो और पैरों को मोड़ कर बैठने से आपके शारीरिक आसन यानि कि पोस्चर में सुधार होता है, जिससे आपक्को एक स्वस्थ शरीर प्राप्त होता है और ये जरूरी भी होता है शरीर को स्वस्थ रखने के लिए. और इसी के कारण आपकी मांसपेशियों को मजबूती प्राप्त होती है और आपके रक्त के संचार में कोई समस्या नहीं आती है.

एक सही मुद्रा में बैठने से आपके शरीर में रक्त का संचार ठीक तरह से होता है और साथ ही साथ आपको नाड़ियों में दबाव भी कम रहता है  और क्या आप जानते है आपकी पाचन क्रिया में रक्त संचार का एक महत्पूर्ण भूमिका अदा करता है. और पाचन क्रिया को सुचारू रूप से चलाने में हृदय का स्वस्थ रहना भी बहुत जरूरी है. जब भोजन जल्दी पच जाएगा तो हृदय को भी कम मेहनत करनी पड़ेगी. और आपको ह्रदय से संबंधी समस्या बहुत कम ही होती है.

हृदय, शरीर और मांसपेशियां स्वस्थ और रक्त का संचार सही होता है तो आपको बीमारियां नहीं होती है और आप लम्बे समय तक स्वस्थ जीवन जी पाते है और आपकी उम्र भी बढ़ जाती है. ये कुछ जमीन पर बैठकर खाना खाने के फायदे है जिन्हे आप ले सकते है. तो जमीन पर बैठकर खाना खाने में शर्माएं नहीं क्योंकि अपने स्वस्थ को ठीक रखने और अपने परिवार के समय बिताने के लिए यह बहुत ही जरूरी है. और ये केवल आयुर्वेद में भी नहीं बल्कि वैज्ञानिक ने भी बताया है.