दाद खाज खुजली का इलाज

दाद खाज खुजली का इलाज: दाद खाज और खुजली ये सभी स्किन पर होने वाली समस्या हैं| इनके होने से स्किन को नुकसान होता हैं| इसमें त्वचा पर लाल रंग के छोटे छोटे दाने होने लगते हैं| खारिश बार बार करने से स्किन पर निशान बन जाते हैं और जलन भी होने लगती हैं| खुजली को एक अलग नाम एक्जिमा रोग भी कहा जाता हैं|

Daad Khaj Khujli Ka Ilaj
खुजली के घरेलु नुस्खे

ये अधिकतर हाथों, गले, कमर, चेहरे, पैरों और शारीर के गुप्त अंग के आसपास होती हैं| यदि हम लम्बे समय तक त्वचा को गिले में रखते हैं| या फिर हमारी त्वचा पर इचिंग ज्यादा होती हैं| इस कारण भी हमें दाद खाज खुजली की परेशानी हो जाती हैं| शारीर के जिस स्थान पर ये हुई हैं उस स्थान को बार बार हाथ नहीं लगाना चाहिए|

त्वचा पर दाद होने के साथ साथ कही बार ऐसा भी होता हैं| कि इसके साथ फुंसियाँ भी हो जाती हैं और उनमे पस भरने लगती हैं| खाज खुजली से बचने के लिए जरुरी हैं कि आप अपने शारीर की साफ सफाई का ध्यान रखे| समय समय पर शारीर को साफ करें और हमेशा साफ ही रखे और साफ स्वच्छ कपडे पहने|

कही बार ऐसा भी हो जाता हैं कि स्किन के साथ जुडी होने वाली बीमारियाँ कई बार गंभीर समस्या बन जाती हैं| इसके लिए हम कई घरेलु उपचार या फिर आयुर्वेद के उपचार को करके भी इनसे छुटकारा पा सकते हैं| लेकिन इनके साथ साथ हमें कुछ सावधानी भी रखनी होती हैं जिससे की कोई भी परेशानी हमारे सामने ना आयें|

दाद खाज खुजली होने के कारण

स्किन की परेशानी कुछ लोगों को ही होती है जैसे कुछ लोगों को स्किन की एलर्जी होती हैं| इसके अलावा और और कारण भी होते हैं जिनसे ये रोग होता हैं|

दाद खाज खुजली होने के कारण
दाद खाज खुजली होने के कारण

त्वचा रुखी रहने के कारण
धूल मिट्टी के कारण
मौसम में आये बदलाव के कारण
स्किन पर इन्फेशन होने के कारण
लम्बे समय तक गीले रहने के कारण
किसी क्रीम या दवा के साइड इफेक्ट के करण
बालों में जुएँ और रुसी होने के कारण सर में खुजली होने लगती हैं
गर्मी के मौसम में शारीर पर बहुत अधिक पसीना आने के कारण
जब आप घर से बाहर निकलती हैं तो धूल मिट्टी आपके शारीर पर लग जाती हैं| जिससे खुजली होने लगती हैं

दाद खाज खुजली के लक्षण

त्वचा का रंग लाल पड़ना
त्वचा पर छोटे दाने निकलना
जलन महसूस होना और ज्यादा खारिश होना

दाद खाज खुजली का इलाज

तुलसी से उपाय: तुलसी का रस निकाल लें और फिर इसे तिल्ली के तेल में मिलाकर लगाने से कुछ ही दिनों में खुजली से दूर हो जाती हैं|

पीपल की छाल: सबसे पहले आप पीपल की छाल को ले और इसे पीस लें| फिर इसे देसी घी में मिला लों फिर इस मिश्रण को खुजली वाली जगह पर लगायें इससे खुजली जल्द ही दूर हो जाएगी|

पीपल की छाल
पीपल की छाल उपयोगी हैं दाद खाज खुजली के इलाज में

50 ग्राम पीपल की छाल को जला लें और इसकी राख लें| तथा जरुरत के अनुसार चूना और घी इसमें मिला लें| और इसे अच्छे से खरल करके लेप करने से लाभ होता हैं|

पीपल की छाल का 40 मिलीमीटर काढ़ा रोजाना सुबह और शाम को रोगी को पिलाये इससे खुजली मिट जाती हैं| लेकिन इनमे थोड़े देर से आराम मिलता हैं इसका उपयोग आपको करते रहना चाहिए|

नींबू: एक नींबू को लें और इसका रस निकाल लें| फिर केले के गूदे को इस रस में मिला लें और खुजली वाली जगह पर लगाये इससे खुजली ठीक हो जाती हैं|

20 मिलीलीटर नींबू के रस में 25 ग्राम मुल्तानी मिट्टी और 10 ग्राम कालीमिर्च को पिस लें| और इन सब को अच्छे से मिलाकर एक लेप तैयार कर लें फिर इस लेप को खुजली के स्थान पर लगाये| इससे भी खुजली मिट जाती हैं|

यदि आप किसी लेप का उपयोग नहीं करना चाहते, तो आप चमेली के तेल में बराबर मात्रा में नींबू का रस मिलाकर शारीर पर मालिश करें इससे सूखी खुजली दूर हो जाती हैं| या फिर चन्दन के तेल में नींबू का रस मिलाकर खुजली वाली जगह पर 6-7 बार लगाये|

नारियल: नारियल के तेल में नींबू का रस मिलाकर मालिश करने या नींबू को वैसे ही चूसने से भी खुजली में आराम मिलता हैं और धीरे धीरे ये खुजली मिट जाती हैं|

आप 10 ग्राम गंधक लें और इसे बारीक़ पीस लें और 100 मिलीलीटर नारियल के तेल में मिलाकर कई बार खुजली वाले स्थान पर लगाने से खुजली दूर हो जाती हैं|

100 मिलीलीटर नारियल के तेल और लें और इसे थोडा सा गर्म कर लें| और फिर इसमें 10 ग्राम कपूर को मिलाकर खुजली वाले स्थान पर लगाये| इससे खुजली तुरंत ही मिट जाती हैं क्योंकि कपूर में त्वचा को सुन्न करने का गुण पाया जाता हैं|

आक: आक के फूलों को तोड़ने पर जो उसमे से दूध निकलता हैं| उसमे नारियल का तेल मिलाकर त्वचा पर लगाने से खुजली में बहुत ही जल्द आराम मिलता हैं|

आक के फूलों
आक के फूलों का दूध हैं उपयोगी

50 मिलीलीटर सरसों का तेल लें और 10 मिलीलीटर आक का दूध लेकर आग पर पकाने के लिए रख दें| और फिर जब ये पक के दूध जल जाये तो इसे आग से हटा कर बचे तेल से शारीर की मालिश करें इससे कुछ ही समय में खुजली बिलकुल दूर हो जाती हैं|

10 लीटर आक के दूध को 50 लीटर सरसों के तेल में पका लें| फिर शेष तेल को सुरक्षित रख लें इस तेल की दिन में 2 बार मालिश करें और 3 घंटे तक स्नान ना करें ना ही पानी के संपर्क में जाये| इससे कुछ ही दिनों में ही खुजली पूरी तरह से दूर हो जाती हैं|

कपूर: कपूर में शारीर को सुन्न करने के गुण पाए जाते हैं| इसलिए कपूर का इस्तेमाल किया जाता हैं कपूर को चमेली के तेल में मिलाकर शारीर की मालिश करनी चाहिए इससे खुजली दूर हो जाती हैं|

10 ग्राम कपूर, 10 ग्राम सफेद कत्था और 5 ग्राम सिन्दूर को इकट्ठा करके कांसे के बर्तन में डालें| और फिर इसके ऊपर से 100 ग्राम घी डाल लें और फिर इसे अच्छे से मसल लें| अब इस मरहम को शारीर के खुजली वाले भागों तथा सड़े गले जख्मों पर लगाने से खुजली ठीक हो जाती हैं|

त्रिफला: 20 से 90 मिलीलीटर त्रिफला के रस को रोजाना 4 बार पीने से खून साफ हो जाता हैं| और खाज खुजली के साथ त्वचा के दुसरे रोग भी दूर हो जाते हैं| (दाद खाज खुजली का इलाज)

दाद खाज खुजली के घरेलु नुस्खे

  • खीरे का रस निकाल लें और इससे हल्की हल्की मालिश करें इससे खुजली दूर हो जाती हैं|
  • अगर आपको खुजली कुछ ज्यादा ही हो रही हैं| तो आप 1 हफ्ते तक टमाटर का रस सुबह सुबह रोजाना पिए|
  • खारिश होने पर पानी निकलता हैं तो आप इसे गीला होने से बचाए|
  • आप नीम की पत्तियों को पानी में डालकर पानी को उबाले, और इस पानी से नहाये इससे आपके शारीर के कीटाणु ख़त्म होते हैं और खुजली से राहत मिलती हैं|
  • एलोवेरा के पत्ते को काट कर इसका गुदा निकाल कर लगाने से भी स्किन की परेशानियाँ दूर हो जाती हैं|
  • यदि आपको बार बार खारिश होती हैं तो आप देसी घी को गुनगुना करें और उसे हल्के हाथों से खारिश वाली जगह पर लगाये|
  • थोड़ी सी मुलतानी मिट्टी दो से तीन चम्मच गुलाब जल में मिलाकर इसका लेप बनाकर इसे लगाने से भी खुजली दूर होती हैं|
  • बाजार में मिलने वाली डिटोल एक चम्मच ले और एक चम्मच पानी ले| और फिर दोनों को  अच्छे से मिक्स कर लें| और रुई के सहायता से खुजली वाले स्थान पर लगाये इस उपाय को करने से खुजली खत्म हो जाती हैं|
  • आप अगर दाद खाज खुजली की समस्या से परेशान हैं| तो आप नहाते समय साबुन या शैम्पू कर उपयोग ना करें| बल्कि नहाने के बाद नारियल का तेल लगाये|
  • लहसुन की कुछ कलियाँ पीसकर ग्रसित स्किन पर लगाने से भी लाभ होता हैं|
    यदि आपकी दाद काफी समय पुरानी हैं तो इसके लिए आप क्रीम का उपयोग करें| जिस की सलाह आपको डॉक्टर से मिलेगी|
  • ज्यादा तीखा चटपटा, नमक और मीठा खाने बचे|
  • आप चाहे तो गुलुकंद और दूध का सेवन भी कर सकते हैं| ये दाद को हटाने में लाभकारी होते हैं|
दूध का सेवन
दूध का सेवन दाद को हटाने में लाभकारी होते हैं
  • गाजर को कदुकस करे और फिर थोडा सेंधा नमक डाले और इसे गर्म कर लें| गर्म होने के बाद इस मिश्रण को दाद वाले स्थान पर लगाओ इससे दाद ख़त्म हो जाती हैं|
  • दाद पर नींबू का रस लगाने से भी दाद जल्दी ठीक हो जाती हैं|
  • अनार के पत्तो से उपचार अपने कभी सुना नहीं होगा| लेकिन अनार के पत्तों से भी हम दाल का उपचार कर सकते हैं|
  • अनार के पत्तो को पीस लें और इसका लेप बना लें| इस उपाय से भी दाद दूर हो जाती हैं|

दाद खाज खुजली के आयुर्वेदिक नुस्खे

नीम: नीम में जीवाणु नाशक गुण पाए जाते हैं| जो शारीर मे सभी प्रकार के जीवाणु को नष्ट कर देती हैं| इसलिए स्किन की परेशानी होने पर सबसे पहले नीम को रखा जाता हैं| क्योंकि ये गुणों से भरपूर होती हैं| इसलिए नीम के कुछ पत्तों को लें और इन्हें दही के साथ मिलाकर पीस लें और फिर दाद वाले भाग पर लगाये|

गंदे के फूल: गेंदे के फूल में एंटी बैक्टीरियल और एंटी वायरल गुण होते हैं| पानी में गेंदे के पत्ते उबाल कर दिन में 2 से 3 बार प्रयोग करें|

हल्दी: हल्दी काफी लाभकारी होती हैं| हल्दी का लेप दाद खाज पर लगाने से बहुत ही जल्द आराम मिलता हैं| आप इसे एक बार दिन में और रात को सोने से पहले इसे लगाये|

अजवाइन: जैसा की हमने सुना ही हैं की अजवाइन को खाने से पेट की कब्ज दूर होती हैं| वैसे ही अजवाइन गर्म पानी में पीस कर इसका लेप तैयार करके दाद पर लगाने से दाद ठीक हो जाती हैं| आप चाहे तो अजवाइन के पानी से दाद वाले भाग को धो भी सकते हैं|

अजवाइन
अजवाइन का लेप दाद पर लगाने से दाद ठीक हो जाती हैं
दाद खाज खुजली में परहेज

जब दाद हो जाती हैं तो खुजली बहुत ही अधिक बढ़ जाती हैं| पर आप खुजली न करे क्योकि इससे किटाणु बहुत तेजी से फैलते है।

खुजली अगर बहुत ही तेजी से हो तो किसी मुलायम कपड़े से हल्का सहला लें| और उस कपड़े को हमेसा अपने से दूर रखे ताकि दाद आपको शरीर के अन्य हिस्सों में न हो और न ही किसी और को घर में हो|

रोजाना साफ सुथरे प्रेस किये हुए ही कपडे पहने और उतारे हुये कपड़े को गर्म पानी में आधा घण्टा डूबा कर रखे| उसके बाद ही धोये और धोने के बाद धूप में फैला कर सुखा लें| इसके बाद उसे प्रेस करे ताकि कपड़ो के कीटाणु पूरी तरह से मर जाये|कपडे सुखाने के बाद प्रेस कर के ही पहने क्योकि ऐसा करने से किटाणु मर जाते हैं|

साबुन और तेल का प्रयोग न करें क्योंकि बहुत से साबुन के प्रयोग करने से यह फैलते हैं अगर साबुन लगाये तो एंटी फंगल साबुन ही प्रयोग करे ताकी कीटाणु मर जाये|

अगर घर में किसी को दाद हुआ हो तो उससे दुरी बनाये रखे| क्योकि दाद के कीटाणु बहुत तेजी से फैलते है और उसके सामान न प्रयोग करें| पसीना ज्यादा होता हो तो कपड़ो को रोजाना साफ कर के ही पहने|

दाद खाज खुजली का इलाज में क्या खाएं

पुराने गेहूं, चावल, मूंग की दाल भोजन में लें।
दूध के साथ गुलकंद का सेवन करें।
सब्जियों में जिमीकंद, बथुआ, मूली, लहसुन, आलू, प्याज खाएं।
फलों में अनार, नीबू, गाजर, पपीता, केला सेवन करें।
2 चम्मच नीम के पत्तों का रस सुबह-शाम पिएं।
चने के आटे की रोटियां बिना नमक मिलाए घी लगाकर रोजाना खाएं।

HealthTipsInHindi is now Officially in English, Go to Viral Home Remedies For Latest Health Tips , Remedies and Treatments in English