ठंडा पानी पीने से नुकसान

ठंडा पानी पीने से नुकसान: गर्मियों के सीजन में लोग सबसे ज्यादा ठंडा पानी पीते है . और ज्यादातर लोग फ्रीज़ का ही पानी पीना पसंद करते है. और गर्मियों में बाहर से घर के अंदर आते और तुरंत ही ठंडा पानी पीने लगते है जिससे हमारी प्यास तो बूझ जाती है लेकिन ठंडा पानी पीने से नुकसान भी बहुत सारे होते है. ठंडा पानी पीने के कारण कई तरह के रोग और बीमारियां हो जाती है. और फ्रीज़ का ठंडा पानी पीने से नुकसान बहुत ज्यादा होता है.

गर्म पानी पीने के लाभ व हानि
गर्म पानी पीने के लाभ व हानि

ये पानी हमारे पेट की पाचन क्रिया को ख़राब करता है.क्योंकि फ्रीज़ का ठंडा ठंडा पानी को से आपके पेट की नसे सिकुड़ जाती है जिससे और जिसके कारण शरीर में ऊर्जा प्रदान करने वाले तत्व और नसें भी कमजोर पढ़ जाती है. इसलिए आप फ्रीज़ के ठन्डे पानी को पीने से जितना बच सकते है उतना बचने की कोशश करें.

 ठंडा पानी पीने से नुकसान, आपकी पाचन क्रिया को करता है ख़राब

हमारे शरीर को चलाने के लिए कुछ कुछ अच्छा दूर की आवश्यकता होती है जो की प्रीत के ठंडे पानी को पीने से नष्ट हो जाती हैं और उस पूजा को नेतृत्व करने के लिए हमारी पाचन क्रिया को तंदुरुस्त होना बहुत जरुरी होता है फ्रिज का ठंडा पानी पीने से गला खराब होने का खतरा बहुत बना रहता है.

ठण्डा पानी पीने के लाभ व हानि
ठण्डा पानी पीने के लाभ व हानि

क्योंकि ठंडा पानी पीने से आपके गले में मेरे को सा म्यूकोसा बन जाता है जिससे आपको जुकाम कफ सर्दी आदि जैसी समस्या नहीं होती हैं और ज्यादातर जो लोग फ्रिज का ठंडा पानी पी लेते हैं उनके घर लेते उनके गले से संबंधित कोई समस्या को देखना पड़ता है यदि ऑफिस का ठंडा पानी पीता है और तो को हृदय से संबंधी बीमारियां हो जाती हैं क्योंकि यह ठंडा पानी सीधे हमारे गले से होती है दिल पर असर करता है जैसे दुनिया हृदय से संबंधित बीमारियां हो जाती हैं.

ठण्डा पानी पीने के लाभ व हानि

पहले तो आपको अपने शरीर के तापमान के बारे में जानना जरूरी है, फिर आप खुद समझ जाएंगे कि शरीर के तापमान के अनुसार आपको कैसा पानी पीना चाहिए। इंसान के शरीर का तापमान 98.6 डिग्री सेल्सियस है, उसके हिसाब से शरीर के लिए 20-22 डिग्री तक के तापमान का पानी उचित है।

अगर इससे ठंडा पानी आप पीते हैं तो शरीर उसको पचाने के लिए अधिक समय लेगा, बर्फ का पानी पचने में सामान्‍यतया 6 घंटे लगते हैं जबकि गर्म करके ठंडा किया हुआ पानी को पचने में 3 घंटे. जबकि गुनगुना पानी तो 1 घंटे में ही पच जाता है.

 

माइग्रेन से निजात दिलाता है पानी इससे पाचन क्रिया कमजोर होती है ठंडा पानी पीने से शरीर में बलगम जम जाता है, जिससे इम्युन सिस्टम कमजोर हो जाता है और शरीर आसानी से सर्दी-जुकाम की चपेट में आ जाता है.

क्या आप जानते है कि ठंडा पानी पीने से बवासीर यानि पाइल्स जैसी समस्या हो जाती है जो बेहद खतरनाक और दर्दनाक होती है. कैसे जानिए आप ने देखा होगा आप फ्रीज़ में कुछ रख देते हो वो जैम जाता है उदारहरण के लिए आप मिठाई या लड्डू को फ्रीज़ में रखते है वो बहुत ही कड़क हो जाती है.

और इसी वजह से जब हम फ्रीज़ का ठंडा पानी पीते है तो पानी से हमारी नसें भी सिकुड़ जाती है.जिससे पाइल्स व अन्य बीमारी का खतरा बन जाता है. और तो और शरीर की सबसे बड़ी आंत में भी पानी को जमा है. इसलिए बर्फ का ठंडा पानी न पीएं, हो सके तो उबला हुआ पानी या साधारण पीएं.

HealthTipsInHindi is now Officially in English, Go to Viral Home Remedies For Latest Health Tips , Remedies and Treatments in English